20 years of 9/11: Know About

आज से 20 साल पहले यानी 11 सितंबर 2001 को दुनिया की सबसे बड़ी शक्ति अमेरिका पर आतंकी हमला हुआ था। इस भीषणतम आतंकी हमले में 2,977 लोगों की जान चली गई थी।

आज से 20 साल पहले यानी 11 सितंबर 2001 को दुनिया की सबसे बड़ी शक्ति अमेरिका पर आतंकी हमला हुआ था। इस भीषणतम आतंकी हमले में 2,977 लोगों की जान चली गई थी। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन अलकायदा ने ली थी। इस हमले को अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने अमेरिकी इतिहास का सबसे काला दिन घोषित किया था। 

यह हादसा उस वक्त हुआ जब दुनिया की सबसे ऊंची इमारतों में शुमार वर्ल्ड ट्रेंड सेंटर में भी करीब 18 हजार कर्मचारी रोजमर्रा का काम निपटाने में जुटे थे। आतंकी संगठन अलकायदा के 19 आतंकियों ने चार पैसेंजर हवाई जहाज हाईजैक किए थे। 

attack

इनमें से दो विमानों को न्यूयॉर्क के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के ट्विन टावर्स के साथ टकरा दिया, जिससे विमानों पर सवार सभी लोग तथा बिल्डिंग के अंदर काम करने वाले हजारों लोग भी मारे गए। जिन विमानों से हमला किया गया उनकी रफ्तार 987.6 किमी/घंटा से ज्यादा थी। 

हमले में दोनों इमारतें दो घंटे के अंदर ढह गए। तीसरे विमान को वाशिंगटन डीसी के बाहर, वर्जीनिया के पेंटागन में टकरा दिया गया। हालांकि चौथे विमान का नियंत्रण वापस लेने के बाद उसे पेंसिल्वेनिया में शैंक्सविले के ग्रामीण इलाके मेएक खेत में क्रैश कराया गया। चारों उड़ानो में कोई भी जीवित नहीं बच सका।

इस खौफनाक आतंकी हमले में 2996 लोगों की जान चली गई थीं, जिनमें 400 पुलिस अफसर और फायरफाइटर्स भी शामिल थे। मरने वालों में 57 देशों के लोग शामिल थे। अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। अमेरिका को अपने ऊपर हुए इस दर्दनाक हमले का बदला लेने में 10 साल लग गए। 

attak

उसने बदले की कार्रवाई करते हुए 2 मई 2011 को पाकिस्तान के ऐबटाबाद में ओसामा को मार गिराया था। इस गगनचुंबी इमारत को फिर से बनाने में 8 साल लगे। बाद में इसे 104 मंजिल की नई इमारत बनाई गई जिसे वन वर्ल्ड ट्रेड सेंटर नाम दिया गया। 

ये इमारत न्यूयॉर्क या मैनहट्टन ही नहीं बल्कि अमेरिका की सबसे ऊंची इमारतों में शुमार है। जिस जगह पर वर्ल्‍ड ट्रेड सेंटर था  उस जगह पर एक नेशनल सितंबर 11 मेमोरियल और म्‍यूजियम बनाया गया है। इस मेमोरियल के अंदर उन पीड़‍ितों को श्रद्धांजलि दी गई है जो हमले में मारे गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *