World Girl Child Day 2021: Know History

Girlsdaya
Girlsdaya

11 अक्टूबर का दिन पूरे विश्व में अन्तर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसको प्रतिवर्ष मनाए जाने की शुरुआत 11 अक्टूबर 2012 को संयुक्त राष्ट्र महासभा से हुई थी।

11 अक्टूबर का दिन पूरे विश्व में अन्तर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसको प्रतिवर्ष मनाए जाने की शुरुआत 11 अक्टूबर 2012 को संयुक्त राष्ट्र महासभा से हुई थी।

Girlsday

इस दिन को मनाने का उद्देश्य बालिकाओं के अधिकारों का संरक्षण, एवं उनके समक्ष आने वाली चुनौतियों की पहचान तथा सामना करना तथा दुनिया भर में लड़कियों के प्रति होने वाली लैंगिक असामानताओं को खत्म करने के बारे में जागरूकता फैलाना है।

Girlsdayd

पहले के समय में महिलाओं का बहुत सम्मान किया जाता था। उन्हें पूज्य श्रेणी में रखा जाता था। परन्तु जैसे-जैसे समय बीतता गया इनकी स्थिति में काफी बदलाव आया। लड़कियों के प्रति लोगों की सोच बदलने लगी थी। बालविवाह प्रथा, सती प्रथा, दहेज़ प्रथा, कन्या भ्रूण हत्या, उन्हें घर से बाहर न निकलने देना इत्यादि रुढ़िवादी प्रथायें काफी प्रचलित हो गई। इस कारण से लड़कियों को शिक्षा, पोषण कानूनी अधिकार और चिकित्सा जैसे अधिकारों से वंचित रखा जाने लगा। उन्हें गुलामों की तरह शोषण किया जाता था।

लेकिन अब इस आधुनिक युग में लड़कियों को उनके अधिकार देने और उनके प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए कई प्रयाश किये जा रहे हैं। भारत सरकार भी इस दिशा में काम कर रही है और कई योजनायें लागू कर रही है।

Girlsdayc

भारत सरकार ने भी बालिकाओं को सशक्त बनाने के लिए काफी योजनाओं को लागू किया है, जिसके तहत “बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओं’, सुकन्या समृद्धि योजना, राजीव गांधी सबला योजना आदि कुछ उल्लेखनीय योजनाऐं हैं। इसके अलावा केंद्र और राज्य सरकार भी अन्य महत्वपूर्ण योजनायें शुरू कर रही है।

Girlsdayf

इस साल (2021) अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस की थीम है- “हमारी आवाज और हमारा समान भविष्य” है।

पिछले कुछ वर्षों के अन्तर्राष्ट्रीय बालिका दिवस की थीम:-

साल                                                           थीम

2020                                  लड़कियों की शिक्षा के लिए नवीनीकरण’ 

2019                                 Girl Force: Unscripted and Unstoppable    

2018                                  विथ हर अस्किल्ड गर्लफ़ोर्स’

2017                                  लड़कियों को सशक्त होना किसी संकट के पहले, दौरान या बाद में’

2016                                  लड़कियों की प्रगति लक्ष्य प्रगति, लड़कियों के लिए क्या मायने रखता है’ 

Girlsdayg

लड़कियों को शिक्षित करने से बाल विवाह, बीमारी की दर को कम करने में मदद मिलती है और लड़कियों को उच्च वेतन वाली नौकरियों तक पहुंच बनाने में मदद करके अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में मदद मिलती है। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस को राष्ट्रीय बालिका दिवस, बालिका दिवस, कन्या दिन, जागृति कन्या दिवस के नाम से भी जाना जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *